durga aarti anuradha paudwal lyrics in hindi

durga aarti anuradha paudwal lyrics in hindi

अम्बे तू है जगदम्बे काली,
जय दुर्गे खप्पर वाली,
तेरे ही गुण गायें भारती,
ओ मैया हम सब उतारे तेरी आरती ।

durga aarti anuradha paudwal lyrics in hindi 


durga aarti anuradha paudwal lyrics in hindi


अम्बे तू है जगदम्बे काली,
जय दुर्गे खप्पर वाली,
तेरे ही गुण गायें भारती,
ओ मैया हम सब उतारे तेरी आरती

तेरे भक्त जनो पर मैया
भीड़ पड़ी है भारी,
भीड़ पड़ी है भारी,
दानव दल पर टूट पड़ो
माँ कर के सिंह सवारी ।
कर के सिंह सवारी ।

तेरे भक्त जानो पर मैया
भीड़ पड़ी है भारी,
भीड़ पड़ी है भारी,
दानव दल पर टूट पड़ो
माँ कर के सिंह सवारी ।
कर के सिंह सवारी ।

सौ सौ सिंघो से है बलशाली,
है दस भुजाओं वाली,
दुखिओं के दुखड़े निवारती ।
ओ मैया हम सब उतारे तेरी आरती

अम्बे तू है जगदम्बे काली,
जय दुर्गे खप्पर वाली,
तेरे ही गुण गायें भारती,
ओ मैया हम सब उतारे तेरी आरती

माँ बेटे का है इस जग में
बड़ा ही निर्मल नाता,
बड़ा ही निर्मल नाता
पूत कपूत सुने है पर
ना माता सुनी कुमाता ।
माता सुनी कुमाता ।

माँ बेटे का है इस जग में
बड़ा ही निर्मल नाता,
बड़ा ही निर्मल नाता,
पूत कपूत सुने है पर
ना माता सुनी कुमाता ।
माता सुनी कुमाता ।

सबपे करुणा दरसाने वाली,
अमृत बरसाने वाली,
दुखिओं के दुखड़े निवारती ।
ओ मैया हम सब उतारे तेरी आरती

अम्बे तू है जगदम्बे काली,
जय दुर्गे खप्पर वाली,
तेरे ही गुण गायें भारती,
ओ मैया हम सब उतारे तेरी आरती

durga aarti anuradha paudwal lyrics in hindi


नहीं मांगते धन और दौलत ना चांदी ना सोना,
ना चांदी ना सोना,
हम तो मांगे माँ तेरे मन
में एक छोटा सा कोना ।
एक छोटा सा कोना ।

नहीं मांगते धन और दौलत ना चांदी ना सोना,
ना चांदी ना सोना,
हम तो मांगे माँ तेरे मन
में एक छोटा सा कोना ।
एक छोटा सा कोना ।

सब की बिगड़ी बनाने वाली,
लाज बचाने वाली,
सतिओं के सत को सवारती ।
ओ मैया हम सब उतारे तेरी आरती

अम्बे तू है जगदम्बे काली,
जय दुर्गे खप्पर वाली,
तेरे ही गुण गायें भारती,
ओ मैया हम सब उतारे तेरी आरती

अम्बे तू है जगदम्बे काली,
जय दुर्गे खप्पर वाली,
तेरे ही गुण गायें भारती,
ओ मैया हम सब उतारे तेरी आरती


durga aarti anuradha paudwal lyrics in hindi
durga aarti anuradha paudwal lyrics in hindi durga aarti anuradha paudwal lyrics in hindi Reviewed by Ravi Singh on October 07, 2018 Rating: 5

No comments:

Powered by Blogger.