mera rang de basanti chola

mera rang de basanti chola

मेरा रंग दे बसंती चोला मेरा रंग दे बसंती चोला
हे मेरा रंग दे बसंती चोला मेरा रंग दे बसंती चोला
ओ आज रंग दे ओ मेरा रंग दे मेरा रंगदे बसंती चोला

मेरा रंगदे बसंती चोला
हे तेरा रंगदे बसंती चोला
mera rang de basanti chola
माई रंग दे बसंती चोला

mera rang de basanti chola

आज़ादी को चली बिहानी दीवानो की टोलीया
आज़ादी को चली बिहानी दीवानो की टोलीया
खून से अपने लिख दे हम इन्कलाब कि बोलिया
हम वापस लौटेंगे लेकर आज़ादी का टोला
मेरा रंग दे

हे मेरा रंगदे बसंती चोला
मेरा रंगदे बसंती चोला
मेरा रंगदे बसंती चोला
माए रंग दे बसंती चोला

ये वो चोला है के जिस पे रंग चढ़े ना दूजा
ये वो चोला है के जिस पे रंग चढ़े ना दूजा
हम ने तो बचपन से कि थी इस चोले की पूजा
कल तक जो चिंगारी थी वो आज बनी है शोला
मेरा रंग दे

हे मेरा रंगदे बसंती चोला
रंगदे बसंती चोला
मेरा रंगदे बसंती चोला
माये मेरा रंगदे बसंती चोला
ओ आज दे दे माई रंग दे
मेरा रंगदे बसंती चोला
mera rang de basanti chola

मेरा रंग दे बसंती चोला मेरा रंग दे बसंती चोला
हे मेरा रंग दे बसंती चोला मेरा रंग दे बसंती चोला

ओ मेरा रंगदे बसंती चोला
मेरा रंगदे बसंती चोला
Mera रंगदे बसंती चोला
मेरा रंगदे बसंती चोला
Mera रंगदे बसंती चोला
मेरा रंगदे बसंती चोला

mera rang de basanti chola

The Legend Of Bhagat Singh

सपने मे देखा था जिस को आज वही दिन आया है
सपने मे देखा था जिस को आज वही दिन आया है
सुली के उस पार खडी है माँ ने हमें बुलाया है
आज मौत के पलड़े में जीवन को हमने तौला
ओ मेरा रंग दे

मेरा रंग दे बसंती चोला मेरा रंग दे बसंती चोला
मेरा रंग दे बसंती चोला मेरा रंग दे बसंती चोला
ओ आज रंगदे ओ माई रंग दे

मेरा रंगदे बसंती चोला
मेरा रंगदे बसंती चोला
Mera रंगदे बसंती चोला
मेरा रंगदे बसंती चोला

खुश रहो खुश रहो पहेले वतन
हम अपना फर्ज़ निभाके के चले
कही बुझने ना देना उस आग को
आग सीनों में हम जो लगा के चले

क्या हुआ नींद आई जो हम सो गए
हम तो सारे वतन को जगा के चले
याद आये हमारी तो रोना नहीं

याद आये हमारी तो रोना नहीं
तुमको आज़ादी का रंग लगा के चले
हां तुमको आज़ादी का रंग लगा के चले
तुमको आज़ादी का रंग लगा के चले

mera rang de basanti chola

सांस है जब तलक ना रुकेंगे कदम
चल पड़े है तो मंजिल को पा जायेंगे
जान प्यारी नही है वतन से हमें
मरते मरते सभी को बता जायंगे
ऐ वतन ऐ वतन ऐ वतन

वो जवानी जो खून को जलाती नहीं
वो वतन के लिय रंग लाती नहीं
दाग लेके गुलामी का क्यो हम जिए… क्यो हम जिये
सोच कर राटन को नेद नती नहिन

सांस है जब तलक ना रुकेंगे कदम
चल पड़े है तो मंजिल को पा जायेंगे
जान प्यारी नही है वतन से हमें
मरते मरते सभी को बता जायंगे
ऐ वतन ऐ वतन ऐ वतन

हमने तय कर लिआ हमने ली है कसम
खून से अपने सिचेंगे हम ये चमन
हमने तय कर लिआ हमने ली है कसम
खून से अपने सिचेंगे हम ये चमन
जान लेकर हथेली पे हम चल दिए
बाँध कर सर पे निकले है हम ये कफन

सांस है जब तलक ना रुकेंगे कदम
चल पड़े है तो मंजिल को पा जायेंगे
जान प्यारी नही है वतन से हमें
मरते मरते सभी को बता जायंगे
ऐ वतन ऐ वतन ऐ वतन

हे वतन ऐ वतन
ऐ वतन ऐ वतन
ऐ वतन ऐ वतन

mera rang de basanti chola

Randhir Deswal

Hi, I am Randhir Singh a Solo Travel Blogger form Rohtak Haryana. I am a writer of Lyrics and Quotes.

You may also like...

Leave a Reply