chitta ve udta punjab lyrics

chitta ve udta punjab lyrics

गीत शीर्षक: चिट्टा वे
मूवी: उड़ता पंजाब (2016)
गायक: शाहिद माल्या, बाबू हाबी, भानु प्रताप
गीत: शेली
संगीत: अमित त्रिवेदी
संगीत लेबल: ज़ी संगीत कंपनी

chitta ve udta punjab lyrics

देखो देखो…
हो देखो मैं हूँ आमने
और तुस्सी हो सामने
बुर्राह… बुर्राह… बुर्राह…
है सब दिल लगे थामने

ज़िन्दगी चिल्ल है या
जियो जियो स्पीड विच
आज़ादी लिपटी
मज़ा है सारा वीड विच

चौड़े में रहो हाई
काहे की कोई रोक टोक
चुचा करे जो कोई
उसको दो ओथे ही ठोक

चड्डी पहन के गाऊं
या फिर गाऊं नंगा
तू होता है कौन चूजे
चल तेरी माँ दा कंगना

मैं जैसा भी हूँ
कूल कूल ढूढे चंगा
पंगा ना लेना मुझसे
मैं उड़ता पतंगा

मेरी आन बान शान
सुनामी में तूफ़ान
हर देश में हैवान
मुझे कहाँ मिले चैन

मेरा गाना जब भी बाजे
पुलिस ये चोर नाचे
मुझे ज्ञान ना पिलाना
मैं हूँ अंतर्यामी
तुम हरी गुण गाओ
मैं पदाइशी हरामी बुह..

ओ चिट्टा वे, ओ चिट्टा वे
कैयां नु है ख़ुश कित्ता वे
है मिट्ठा वे, है मिट्ठा वे
कुण्डी नशे वाली खोल के देख

उड़ता पंजाब…

फकीरा वे, फकीरा वे
ए ही तेरी सोहनी मीरा वे
फकीरा वे, फकीरा वे
बस नाच नाले खीच के देख

उड़ता पंजाब…

चिट्टा वे, चिट्टा वे
जिसने वी अंनु लिट्टा वे
जिट्टा वे, जिट्टा वे
कुण्डी नशे वाली खोल के देख

उड़ता पंजाब…

chitta ve udta punjab lyrics

chitta ve udta punjab lyrics

चिट्टा विदेशी है पर बोले अब पंजाबी है
पूरे पंजाब में बस इसकी नवाबी है
आग है शोला ये अंगारों का लिबास है
नश नश में घुसा हुआ

हर दिल का ये ख़ास है
हां हर दिल का ये ख़ास है
हर दिल का ये ख़ास है

खेत खलिहानों से या चुंगी नाकों नहों से
यारी है इसको बन्दों के काले गुनाहों से
है वादियों में, शदियों में
मरघटों में ये

रंग रलियों में, कलियों में
आहटों में ये..
हदें और सरहदें सारी पार कर गया
पहले मज़ा और फिर मज़ार कर गया

मौत का व्यापार, तलब बार बार
है चिल्लेस की वार आर या तो पार
छोरा छोरी हो या नार
मुंडा कुड़ी मुटियार
इसका पहले बढे प्यार
फिर छींक और बुखार

उड़ता पंजाब…

alia bhatt – shahid kapoor – kareena kapoor

chitta ve udta punjab lyrics

Randhir Deswal

Hi, I am Randhir Singh a Solo Travel Blogger form Rohtak Haryana. I am a writer of Lyrics and Quotes.

You may also like...

Leave a Reply