युजवेंद्र चहल जाट – भारतीय स्पिन गेंदबाज़ी का उभरता चेहरा

हमारा आज का विषय है yuzvendra chahal jat | ipl live | Jatland Jind | chahal Jat Gotra 

yuzvendra chahal jat युवा  भारतीय क्रिकेटर है जो भारत के एक दिवसीय अंतर्राष्ट्रीय और ट्वेंटी -20 अंतर्राष्ट्रीय दोनों में खेलता है।

उनका जन्म 23 जुलाई 1990 जींद में हुआ जबकि उनका मूल गाँव दरियाआला है परकाफी समय से उनका परिवार जींद शहर के पटियाला चोंक पर रहता है।

उनके पिता कृष्ण कुमार चहल (पूर्व सरपंच दरियावाला) जींद कोर्ट में वकील और माँ सुनीता देवी हाउस वाइफ है |

उनके परिवार में उनसे अलग उनकी दो बड़ी बहनें भी है जो आस्ट्रेलिया में रहती है |

उनकी शुरुवाती शिक्षा DAV स्कुल जींद में हुई पर उनका पढाई में मन नहीं लगता था | उन्हें शतरंज और क्रिकेट खेलने का चस्का लगा था | केवल सात साल की छोटी सी उम्र में ही वो शतरंज और बेट बाल खेलने लग गये थे |

लग्न और कड़ी मेहनत के कारण वो जल्द ही शतरंज में माहिर हो गये और आसपास के शतरंज के माहिर लोगों को हराने लग गये |

अपनी लग्न और प्रतिभा के कारण सिर्फ दस साल की उम्र में ही उन्हें राष्ट्रीय स्तर पर शतरंज खेलने का मौका भी मिल गया |

yuzvendra chahal jat

जहाँ 2002 में खेलते हुए उन्होंने अंडर-12 किड्स चेम्पियनशिप जीत ली | यह उनकी पहली राष्ट्रीय जीत थी, इसके बाद उन्हें ग्रीस में हुई जूनियर शतरंज चेम्पियनशिप में भारत का प्रतिनिधित्व करने का मौका मिला | इसके अलावा वह अंडर-16 चेम्पियनशिप भी खेल चुके है |

शतरंज खेलते समय भी वो क्रिकेट से दूर नहीं रहे | उनके पिता की तमन्ना थी कि उनका बेटा सफल हो |

इसलिए उन्होंने दरियावाला गाँव में अपनी घरेलू जमीन डेढ़ किल्ले में खेती बंद करके उनके लिए पिच तैयार करवा दी, जहाँ वो अभ्यास किया करते थे |

2006 में उन्हें शतरंज खेलने के लिए स्पोंसर मिलने बंद हो गये जिससे उनके सामने समस्या उत्पन्न हो गयी क्योंकि यह एक ऐसा खेल था जो सालाना साठ लाख खर्च मांगता था | इसके बाद उन्होंने शतरंज को अलविदा कहकर क्रिकेट की bowl थाम ली |

yuzvendra chahal jat

इसके बाद उन्होंने अपनी घरेलू जमीन पर बनी पिच में प्रेक्टिस करते करते अंडर-15 में जगह बना ली और फिर अंडर-16, 18, 25 में भी जगह बनाने में सफल रहे |

वह सुर्ख़ियों में तब आये जब उन्होंने कूच बिहार ट्राफी में अंडर-19 में खेलते हुए कातिलाना गेंदबाज़ी करके सर्वश्रेस्ट 34 विकेट लेने में सफल हुए | इसके बाद उन्होंने पीछे मुड कर नही देखा |

अब उन्हें रणजी ट्राफी में हरियाणा की तरफ से चुन लिया गया और 3 नवम्बर 2009 को मध्यप्रदेश के खिलाफ अपना पहला रणजी मैच खेला |

आई पी एल में प्रवेश yuzvendra chahal jat ipl live Jatland Jind chahal Jat Gotra

इसके बाद उन्हें 2011 में मुंबई इंडियन्स टीम ने अधिकृत किया, जहाँ हरभजन सिंह की अगुवाई में उन्होंने अपने आई पी एल केरियर की हसीन शुरुवात करी भले ही उस सीजन में उन्हें कोई भी मैच खेलने का मौका नहीं मिल पाया |

हालाँकि उसी साल चेम्पियन ट्राफी फाइनल मैच में उन्होंने 9 रन देकर दो महत्वपूर्ण विकेट लेकर सबको बता दिया कि वो निरे दुसरे दर्जे के गेंदबाज़ नहीं है, जैसा कि उन्हें समझा जा रहा है |

इसके बाद 2014 में रॉयल चेलेंजर बंगलौर ने उन पर पैसा लगाया और उन्होंने बदले में बेहतरीन प्रदर्शन करते हुए इस फैसले को वाजिब साबित किया | इस सीजन में उन्होंने कुल 12 विकेट लिए |

चहल कहते है शतरंज का खिलाडी होने के कारण मैं बल्लेबाज़ की हर चाल और रणनीति को जल्द समझ लेता हूँ |

इसी कारण वह हर रोज अपने केरियर को उगते सूरज की तरह नई बुलंदी पर ले जाने में सफल रहे |

team india में प्रवेश yuzvendra chahal jat ipl live Jatland Jind chahal Jat Gotra

yuzvendra chahal jat

इस तरह बेहतरीन प्रदर्शन के चलते 2016 में उनके लिए भारतीय टीम के दरवाजे भी खुल गये जहाँ जिम्बाब्वे दौरे के लिए उन्हें चुना गया | यहाँ पर उन्होंने अपने प्रदर्शन से चयनकर्ताओ को संतुष्ट किया |

घातक गेंदबाज़ी yuzvendra chahal jat

अपने बेहतरीन प्रदर्शन के चलते इंग्लैंड के खिलाफ सीरिज जीतने के बाद रविन्द्र जडेजा और रविन्द्रन अश्विन को रेस्ट देकर उन्हें खेलने का मौका दिया गया | टी 20 मैच में उन्हें लेग स्पिनर के तौर पर शामिल किया गया |

उन्होंने तीसरे और अंतिम मैच में घातक गेंदबाज़ी करते हुए 4 ओवर में सिर्फ 25 रन देते हुए 6 विकेट झटके, यह किसी भी भारतीय स्पिनर का सर्वश्रेठ रिकार्ड है |

विश्व क्रिकेट में अजन्ता मेंडिस के 6/8 और 6/16 के बाद तीसरा बेहतरीन आकड़ा है | इस प्रदर्शन के कारण भारत ने इंग्लैंड को 75 रन की करारी हार का स्वाद चखाया |

yuzvendra chahal jat

भारत की जीत के बाद उन्होंने कहा, मैंने सपने में भी नहीं सोचा था कि मैं 6 विकेट ले लूँगा | मैं पहली बार बैगलोर में भारत के लिए खेल रहा था |

यहाँ मुझे घरेलू मैदान जैसा महसूस हुआ | मैंने पहले भी टी 20 में पॉवर प्ले गेंदबाज़ी की थी इसलिए विराट ने मुझ पर भरोसा जताया |

उनकी टी 20 क्रिकेट गेंदबाजी औसत 15.50 और उनकी ODI गेंदबाजी औसत 25.70 है।

दूसरे मैच में चहल ने 25 रन पर तीन विकेट लिए और 8 विकेट से जीत हासिल की।

1 फरवरी, 2017 को भारत टी -20 सीरीज में पांच विकेट लेने वाले पहले गेंदबाज बने। वह भारतीय घरेलू क्रिकेट में हरियाणा और इंडियन प्रीमियर लीग में रॉयल चैलेंजर्स बैंगलोर के लिए खेलते हैं।

वह एक स्पिन गेंदबाज है। टी 20 के इतिहास में केवल ऐसे दो खिलाड़ियों में से एक है, जिन्होंने 6 विकेट लिए हैं।

घरेलू कैरियर yuzvendra chahal jat ipl live

चहल को पहली बार 2011 में मुंबई इंडियंस ने साइन किया था। वह तीन सीज़न में टीम के लिए केवल एक आईपीएल खेल में खेला था, लेकिन 2011 चैंपियंस लीग ट्वेंटी 20 में सभी मैचों में खेला |

उन्होंने रॉयल चैलेंजर्स बैंगलोर के खिलाफ फाइनल में 3 ओवर में 9 रन पर 2 रन लिए, जिससे मुंबई ने कुल 139 रनों का बचाव किया और खिताब को जीत लिया ।

2014 के आईपीएल खिलाड़ियों की नीलामी में, उन्हें 10 लाख में रॉयल चैलेंजर्स ने अधिकृत किया था।

उन्हें आईपीएल 2014 में दिल्ली डेयरडेविल्स के खिलाफ मैन ऑफ दी मैच का पुरस्कार मिला। 2018 में भी आईपीएल नीलामी में रॉयल चैलेंजर्स बैंगलोर द्वारा उन्हें अधिकृत किया गया है ।

अंतर्राष्ट्रीय कैरियर yuzvendra chahal jat

2016 में जिम्बाब्वे दौरे पर उन्हें 14 सदस्यीय टीम में शामिल किया गया था। उन्होंने 11 जून 2016 को हरारे स्पोर्ट्स क्लब में जिम्बाब्वे के खिलाफ अपना एक दिवसीय अंतर्राष्ट्रीय वनडे केरियर शुरू किया।

दूसरे मैच में, चहल ने 25 रन देकर तीन विकेट लिए और उनकी टीम ने 8 विकेट से जीत हासिल की।

उसके दूसरे ओवर में, उन्होंने 109 किमी / घंटा गति पर सीम-अप डिलीवरी की। उनके शानदार गेंदबाजी प्रदर्शन के करके उन्होंने अपना पहला अंतरराष्ट्रीय ‘मैन ऑफ दी मैच पुरस्कार’ भी हासिल किया था।

उन्होंने 18 जून 2016 को हरारे में जिम्बाब्वे के खिलाफ ट्वेंटी 20 अंतरराष्ट्रीय (टी 20) की शुरुआत की।

1 फरवरी 2017 को, वह टी 20 में पांच विकेट लेने वाले भारत के पहले गेंदबाज बने, जिसने इंग्लैंड के खिलाफ 6/25 के आंकड़े को छूकर अपनी धाक जमाई ।

युज़वेन्द्र चहल टी 20 में 6 विकेट लेने वाले दुनिया के पहले लेग स्पिनर हैं और टी -20 इतिहास में लेग स्पिनर के रूप में सर्वश्रेष्ठ गेंदबाजी (6/25) का रिकॉर्ड है।

yuzvendra chahal jat

शतरंज कैरियर yuzvendra chahal jat

चहल पहले युवा शतरंज चैंपियनशिप में भारत का प्रतिनिधित्व करते थे, हालांकि उन्होंने इस खेल को अपने केरियर के उस निर्णायक मौड़ पर छोड़ दिया जब वह प्रायोजक खोजने के लिए संघर्ष कर रहे थे । वह विश्व शतरंज संघ की आधिकारिक साइट में भी सूचीबद्ध है।

उन्होंने किसी भी गेंदबाज के द्वारा 2017 में टी 20 आई में सर्वाधिक विकेट (23)

Searches related to yuzvendra chahal jat

Randhir Deswal

Hi, I am Randhir Singh a Solo Travel Blogger form Rohtak Haryana. I am a writer of Lyrics and Quotes.

You may also like...

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *